Only the mercy of GOD.
Copyright ©2010 Atom To Almighty.
Our Mission
        इन्सान को इस धरती का सर्वश्रेष्ठ प्राणी कहा जाता है। निसंदेह वह सर्वश्रेष्ठ प्राणी है । किसी भी प्राणी की श्रेष्ठता उसके द्वारा किए जाने वाले कार्यों के आधार पर निर्धारित की जाती है। इन्सान ने अपनी कार्य क्षमता के बल पर भौतिक स्तर पर अनेकों उपलब्धियाँ प्राप्त की हैं। अपनी वैज्ञानिक प्रगति के बल पर उसने तमाम सुख साधन जुटा लिए हैं। लेकिन फिर भी वह आज निराश, हताश, असुरक्षित और असंतुष्ट है। आखिर क्यों ?
        आज का प्रत्येक व्यक्ति सिर्फ चार कार्यों मे लगा हुआ है। 1 – भय (Fear), 2 – निद्रा (Sleep), 3 - आहार (Eating) और 4- मैथुन (Sex)। ये चार कार्य तो एक जानवर भी करता है । फिर इन्सान जानवरों से श्रेष्ठ कैसे हो गया ? यदि आप भी इन कार्यो में लिप्त हैं तो जरा सोचिए कि, क्या आप इन्सान कहलाने के अधिकारी हैं ? आखिर इन्सान कि परिभाषा क्या है ? उसकी मंजिल क्या है ? क्यों पैदा किया गया है मनुष्य को इस दुनिया में ?
        धर्म , यह इस दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण और विवादित विषय है । इतिहास गबाह है कि धर्म को लेकर अनेकों लड़ाइयाँ लड़ी गयी , खून खराबा किया गया लेकिन धर्म का पालन किसी ने नहीं किया, आखिर क्यों ?
       आज अनेकों तथाकथित धर्म गुरुओं , संतो , महात्माओं , प्राफेट पैगम्बरों ने धर्म को एक बिज़नस इंडस्ट्री कि तरह स्थापित कर रखा है , जबकि ये लोग धर्म के बारे में कुछ भी नहीं जानते । आखिर क्या है यह धर्म ? क्या इन्सान के लिए धर्म जरूरी है ? ऐसे ही अनेकों ज्वलंतशील प्रश्नों का उत्तर देती, परमाणु से परमेश्वर तक सम्पूर्ण ज्ञान (तत्वज्ञान/ perfect knowledge /खुदाई इल्म) से युक्त वेब धरातल पर एक धार्मिक क्रांति Atom  To Almighty.
        यह एक आंदोलन है जिसका मिशन है समाज में धर्म के नाम पर फैले पाखंड , ढोंग और तथाकथित भगवानों का पर्दाफाश करते हुये धर्म के वास्तविक स्वरूप को समाज मे रखना तथा मनुष्य को उसके वास्तविक लक्ष्य से अवगत कराते हुये , उसे सत्य पर आधारित सर्वोच्च और पूर्ण संतुष्ट जीवन जीने का अवसर प्रदान करना।
General Thoughts
True Knowledge